B.ED Full Form in Hindi | B.ED Full-Form क्या होता है

दोस्तों अगर आपको B.Ed Full Form क्या होता |  बारे में कुछ भी जानकारी नहीं है तो  स्वागत है आपका इस आर्टिकल में , क्योंकि  हम लोग जानेंगे कि  B.ed क्या होता है ?, B.Ed Full Form क्या होता है ,  B.Ed में पढ़ाए जाने वाले विषय ,  B.Ed Course करने के फायदे क्या है , B.Ed Course करने के फायदे क्या है, B.Ed  course  करने के बाद विकल्प क्या क्या है? और अंत में हम लोग जानेंगे की B.Ed Colleges  की  कितनी fees होती है। तो दोस्तों बने रहे हमारे साथ और  हम  धीरे-धीरे इस आर्टिकल में  आसान और सरल भाषा में जानेंगे इन सारे सवालों के बारे में  हमें आपसे एक अनुरोध है कि आप इस आर्टिकल को लास्ट तक जरूर पढ़ें  तभी आपको पूरी B.Ed के बारे में जानकारी होगी  तो चलिए जानते हैं

B.ED क्या होता है ?

अगर आप अपना करियर टीचिंग  फील्ड बनाना चाहते हैं तो   आप B.ed के बारे में जरूर सुने होंगे  होंगे। क्योंकि B.Ed के बिना  आप  टीचिंग प्रोफेशन में कभी करियर नहीं बना सकते क्योंकि टीचिंग फील्ड में B.Ed  की डिग्री का  मांग होता है  B.Ed का कोर्स 2 साल का होता है जिसमें आपको  टीचिंग स्किल से रिलेटेड  सारी Skill सिखाई जाती है  और साथ ही साथ प्रशिक्षण के द्वारा शिक्षण कला में  सिखाई किया जाता है।

B.ED Full Form in Hindi – B.Ed Full-Form क्या होता है

B.Ed की Full Form Bachelor of Education होती है. B.Ed एक Post Graduate Course  होता है. इसमें छात्रों को  टीचर  बनने  वाला  शिक्षा दी जाती है. B.Ed करने के बाद  कोई व्यक्ति  स्कूल मे विद्यार्थियों को शिक्षा देने के योग्य  बन जाता है.  अगर आपको पढ़ना अच्छा लगता है और आप टीचर बनना चाहते हैं तो  अप B.Ed कोर्स का के टीचर फील्ड में अपना करियर बना सकते हैं  B.Ed  एक  उच्च स्तर का और  काफी अच्छा कोर्स माना जाता है  B.Ed कोर्स पूरा 2 साल का course होता है। और  B.Ed कोर्स आप तभी कर सकते हैं जब आप अपना Graduation कंप्लीट कर लिए हैं

B.Ed में पढ़ाए जाने वाले विषय 

अगर आपको एक अच्छा शिक्षक बनना है तो आपको कई विषयों का Knowledge होनी     काफी  जरूरी  है।.एड. सब्जेक्ट्स लिस्ट और B.Ed की फ़ीस, स्थान तथा यूनिवर्सिटी मानकों के अनुसार होती है। B.Ed में पढ़ाए जाने वाले  यह सब  मुख्य विषय है जैसे कि 

B.Ed all subject in Hindi

  • शिक्षा दर्शन ( Educational Philosophy)
  • शैक्षिक समाजशास्त्र (Educational Sociology)
  • आकलन  और  पाठ्यक्रम विकास (Evaluation and Curriculum Development)
  • समग्र शिक्षा (Inclusive Education)
  • शिक्षा मनोविज्ञान  और बाल विकास (Child Development and Educational Psychology)
  • निर्देशन एवं परामर्श (Guidance and Counselling)
  • नेतृत्व  एवं  विद्यालय प्रबंधन (Management  and Educational Leadership )
  • भारत में शिक्षा व्यवस्था का विकास एवं चुनौतियाँ के बारे में  (Development of Education System in India and about Its Challenges)
  • संचार प्रौद्योगिकी  एवं सूचना का शिक्षा में प्रयोग (Communication Technology, ICTE  and Information )

B.Ed Course करने के फायदे क्या है 

ऐसे तो B.Ed Course करने के बहुत सारे फायदे हैं  आज के समय में  टीचर बनने के लिए B.Ed कोर्स बहुत  ही महत्वपूर्ण  कोर्स है। B.Ed कर लेने के बाद छात्र के पास  करियर बनाने का बहुत सारे विकल्प हो जाते हैं। B.Ed करने के बाद छात्र   कोई भी  teacher से रिलेटेड  प्राइवेट या गवर्नमेंट जॉब कर सकते हैं और अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं।  B.Ed करने के बाद आप पढ़ा कर  दूसरे छात्रों को शिक्षित कर सकते हैं  और साथ ही साथ करा  पढ़ाते-पढ़ाते  अपना ज्ञान भी बढ़ा सकते हैं   तो अगर आप  टीचर बनना चाहते हैं तो B.ed  कोर्स आपको जरूर करना चाहिए  इसको ओके कर लेने के बाद आपको teacher बनने में सहायता मिलेगी  और आप  teacher बनने के  लायक हो बन जाएंगे |

B.Ed कोर्स कितने वर्षों का होता है? 

 पहले B.Ed कोर्स का अवधि 1 साल का होता था लेकिन वर्ष 2015-16 से B.Ed कोर्स को 1 साल से बढ़ाकर 2 साल के लिए कर दिया गया  B.Ed के 2 साल के  कोर्स में  पूरा 4 सेमेस्टर होते हैं  इस B.Ed  कोर्स को आप अपने ग्रैजुएट पास करने के बाद कर सकते हैं 

B.Ed Course  करने के बाद विकल्प क्या क्या है? 

B.Ed कोर्स करने के बाद आपको  किसी हाई स्कूल में टीचर की नौकरी  मिल सकती  हैं. लेकिन उसके लिए आपको CTET  या TET का परीक्षा  अच्छे अंक से पास करना होगा. अगर आप CTET  या TET  के exam  को पास कर लेते हैं  तो आपको CTET  या TET एक अच्छा नौकरी मिल सकता है 

 और आपके सामने दूसरा विकल्प B.Ed करने के बाद आप M ED कर सकते हैं, M ED करने के बाद आप 10 प्लस टू  School में नौकरी पाने के साथ-साथ अगर आप चाहे तो  B.Ed  college में भी नौकरी पा सकते हैं. 

B.Ed Colleges  की कितनी fees होती है

B.Ed Government Colleges  की  कितनी fees होती है

 अगर आप किसी सरकारी College से B.Ed की  degree हासिल करते हैं तो आप वार्षिक  fee सिर्फ 15000 से लेकर 20000 के बीच हो सकता है हर  Government College का fee अलग-अलग हो सकता है लेकिन  हर सरकारी कॉलेज का 10,000 से लेकर 15000 हजार  के आसपास में  हो सकता है

B.Ed Private Colleges  की  कितनी fees होती है 

 अगर आपको B.Ed कोर्स करने के लिए कोई सरकारी कॉलेज ना मिल पाए तो एक ही विकल्प होता है वह प्राइवेट कॉलेज  परंतु  सरकारी B.Ed कॉलेज के मुकाबले  प्राइवेट B.Ed कॉलेज  काफी फीस लेते हैं 

किसी प्राइवेट B.Ed कॉलेज की सालाना फीस 50000 से लेकर 100000 के बीच हो सकता है  या कॉलेज पर निर्भर करता है कि  वह B.Ed कोर्स के लिए कितना फीस चार्ज करते हैं  अलग-अलग B.Ed कॉलेज की अलग-अलग फीस होती है आप  उन B.Ed कॉलेज के वेबसाइट पर जाकर   उन कॉलेज के फीस पता लगा सकते हैं 

Conclusion – 

हमें पूरा  उम्मीद है कि आपको हमारा यह आर्तिकाल पसंद आया होगा और आप इसे  पूरा  जरूर पढ़े होंगे। अगर आप इसे पूरा पढ़े होंगे तो आपको  हमारी आर्टिकल में बताई गई सारी बात समझ में आ गई होगी और  और आप B.ed क्या होता है ?, B.Ed Full Form क्या होता है ,  B.Ed में पढ़ाए जाने वाले विषय ,  B.Ed Course करने के फायदे क्या है , B.Ed Course करने के फायदे क्या है, B.Ed  course  करने के बाद विकल्प क्या क्या है? यह सब जान गए होंगे  अगर हमारा यह आर्टिकल से आपको कुछ सीखने को मिला है तो कमेंट सेक्शन में  हमारे लिए कुछ कमेंट जरूर करें लेकिन अगर आपको  हमारे इस आर्टिकल में कुछ बातें समझ में नहीं आई हैं। तो आप हमें कमेंट सेक्शन में बता सकते हैं  हम आप को समझाने की वापस से प्रयास करेंगे |

अन्य पढ़ें –
AC Full Form – AC का फुल फॉर्म क्या है ?
ECG Full Form In Hindi
CHSL Full Form In Hindi
LIC Full Form In Hindi

9 thoughts on “B.ED Full Form in Hindi | B.ED Full-Form क्या होता है”

  1. Thanks Bro👍👍
    article mein bahut acche samjha hai aapane

    Mein MBA karna chahta hun please aap MBA ke bare mein bataiye

    Reply
    • Uploaded hai check kro miljayega

      Reply

Leave a Comment